deepak

२०२० गुजराती नव वर्ष का दिन उज्जैन, मध्यप्रदेश, इण्डिया के लिए

deepak
Useful Tips on
Panchang
Switch to English
Empty
Title
२०२० गुजराती नव वर्ष
वर्ष:
ग्लोब
अपना शहर खोजें:
२०२० गुजराती नव वर्ष का दिन उज्जैन, इण्डिया के लिए
दीवाली पूजा मुहूर्त, पूजा विधि, आरती, चालीसा आदि के लिए शुभ दीवाली ऐप इनस्टॉल करें
शुभ दीवाली ऐपशुभ दीवाली ऐप

गुजराती नव वर्ष

१६वाँ
नवम्बर २०२०
(सोमवार)
गुजराती नव वर्ष
गुजराती नव वर्ष

गुजराती नव वर्ष के लिए विक्रम सम्वत


गुजराती विक्रम सम्वत २०७७ प्रारम्भ

प्रतिपदा तिथि प्रारम्भ = १५/नवम्बर/२०२० को १०:३६ बजे
प्रतिपदा तिथि समाप्त = १६/नवम्बर/२०२० को ०७:०५ बजे
टिप्पणी - २४ घण्टे की घड़ी उज्जैन के स्थानीय समय के साथ और सभी मुहूर्त के समय के लिए डी.एस.टी समायोजित (यदि मान्य है)।
२०२० गुजराती नया साल

अधिकांश चन्द्र कैलेण्डर में चैत्र माह के दौरान शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा को साल प्रारम्भ होता है और इस दिन को गुड़ी पड़वा और युगादी के रूप में मनाया जाता है। हालाँकि गुजरात में नव वर्ष कार्तिक माह में शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा को प्रारम्भ होता है।

अधिकांश समय गुजराती नव वर्ष अन्नकूट पूजा के दिन प्रारम्भ होता है। अन्नकूट पूजा को गोवर्धन पूजा के नाम से भी जाना जाता है।

गुजराती नव वर्ष वह समय होता है जिस दिन पुरानी खाता पुस्तकों को बंद किया जाता है और नई खाता पुस्तकों का शुभारम्भ किया जाता है। गुजरात में पारम्परिक खाता पुस्तकों को चोपड़ा के नाम से जाना जाता है। दीवाली पूजा के दौरान देवी लक्ष्मीजी की उपस्थिति में नई खाता पुस्तकों जिसे चोपड़ा कहते है, उनका शुभारम्भ किया जाता है और लक्ष्मीजी के आशीर्वाद की प्रार्थना की जाती है। इस धार्मिक उत्सव को चोपड़ा पूजन के नाम से जाना जाता है। वित्तीय वर्ष को लाभदायक बनाने के लिए चोपड़ा पूजा के दौरान नई खाता पुस्तकों पर शुभ चिह्न बनाये जाते हैं।
10.160.0.50
facebook button